Category Archives: DDLJ

DDLJ : अच्छा है कि ‘राज’ हमारी यादों में जिंदा एक फिल्म किरदार है

आशा है,आप सबकी दीपावली…खुशियों से भरी गुजरी होगी…और दीपों के आलोक ने घर के साथ-साथ आपके जीवन को भी रौशन कर दिया होगा. मुझे भी आज थोड़ी फुरसत मिली और टी.वी. ऑन किया तो देखा “दिल वाले दुल्हनिया ले जायेंगे’ … पढना जारी रखे

"दिल वाले दुल्हनिया ले जायेंगे', फिल्म, DDLJ में प्रकाशित किया गया | 28 टिप्पणियाँ

साथ रहीं…याद रहीं ये फिल्मे (संस्मरण-३)

जब हम दिल्ली से बॉम्बे,आए (हाँ! उस वक़्त बॉम्बे,मुंबई नहीं बना था) तो पाया  यहाँ पर लोग बड़े शौक से थियेटर में फिल्में देखा करते थे. एक दिन पतिदेव   ने ऑफिस से आने के बाद यूँ ही पूछ लिया–‘DDLJ … पढना जारी रखे

'कुछ कुछ होता है' 'खामोश पानी'हिंदी फिल्मे, DDLJ में प्रकाशित किया गया | 44 टिप्पणियाँ

DDLJ:अच्छा है कि ‘राज’ हमारी यादों में जिंदा एक फिल्म किरदार है

‘चवन्नीचैप’ हिंदी का मशहूर ब्लॉग है,जिसमे पहली बार मैंने ‘हिंदी टाकिज’ सिरीज़ के तहत हिंदी सिनेमा के अपने अनुभवों को लिखा….सबको बहुत पसंद आया और अजय जी ने मुझे अपना ब्लॉग शुरू करने की सलाह दे डाली….बहुत हिचकिचाते और डरते … पढना जारी रखे

DDLJ, MUMBAI में प्रकाशित किया गया | 17 टिप्पणियाँ